World Lion Day क्यों और कब मनाया जाता है | विश्व शेर दिवस इतिहास, उदेश्य और रोचक तथ्य ?

World lion day in hindi | World lion day kab manaya jata hai | विश्व शेर दिवस कब मनाया जाता है | Vishva sher divas kab manaya jata hai | शेर दिवस कब मनाया जाता है :- विश्व शेर दिवस हर साल 10 अगस्त को आता है। विश्व शेर दिवस का उद्देश्य शेरो का शिकार को रोकने के बारे में जागरूकता बढ़ाना है, शेर को जंगल के राजा के रूप में जाना जाता है। शेर पैंथेरा जीनस की बड़ी बिल्लियों में से एक हैं और फेलिडे परिवार के सदस्य हैं। शेर, बाघ के बाद दूसरी सबसे बड़ी जीवित बिल्ली हैं। जंगली शेर वर्तमान में भारत और उप-सहारा अफ्रीका में मौजूद हैं।

आमतौर शेरों का नाम सुनते ही हमारे सामने एक विशालकाय आकार का एक खूंखार जानवर दिखाई देने लगता है, और हो भी क्यों न आखिर शेर जंगल का राजा कहा जाता है ।

शेर को जंगल में घूमते हुए भी देखना उतना डरावना होता है जितना उसके पास जाना। शेर अगर एक दहाड़ मार देता है तो दूसरे अच्छे-अच्छे जानवरों के पसीने छूट जाते है। शेर नाम ही अपने आप में एक महानता और हिम्मत का प्रतीक है। इसे साहस, पराक्रम और शौर्य का प्रतीक माना जाता है, क्योंकि ऐसा कोई जानवर नहीं है जो शेर से डरता न हो।

लेकिन क्या आपको पता है क्या है की शेरो के लिए भी मदर्स डे, फ्रेंडशिप डे, पेरेंट्स डे और सिस्टर्स डे की तरह इनके लिए भी एक खास दिन तय किया गया है, जिसके बारे में आपको सारी जानकारी देने वाले है।

विश्व शेर दिवस कब मनाया जाता है (Vishva sher divas kab manaya jata hai)

चलिए आपको बतादे की विश्व शेर दिवस कब मनाया जाता हैं ? – विश्व शेर दिवस हर साल पूरी दुनिया में एक साथ 10 अगस्त को मनाया जाता है और इस साल भी यह सोमवार 10 अगस्त 2022 को पुरे विश्व में एक साथ विश्व शेर दिवस मनाया जायेगा।

विश्व शेर दिवस का इतिहास (History of World Lion Day)

विश्व शेर दिवस बिग कैट रेस्क्यू द्वारा बनाया गया था, जो बड़ी बिल्लियों को समर्पित दुनिया का सबसे बड़ा मान्यता प्राप्त सैंक्चुअरी है। वे 10 अगस्त को चुनते हैं, क्योंकि यह दुनिया भर से लोगों के लिए एक साथ आने के लिए शक्तिशाली शेर को यथासंभव कई तरीकों से साथ देने का एक आदर्श दिन है। हालांकि हम सभी के लिए यह एक मजेदार और रोमांचक अवसर है, इसकी नींव एक गंभीर मामले पर आधारित है की शेरों की संख्या में भारी रूप से उस बिंदु तक गिरावट आई है जहां प्रजातियों को लुप्तप्राय की सूची में रखा जाया जाता है, ठीक अपने बड़े चचेरे भाई बाघ की तरह। इसलिए विश्व शेर दिवस शेर जानवरों के खतरे के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक आदर्श दिन है।

विश्व शेर दिवस कैसे मनाएं (How to Celebrate World Lion Day)

आप उस दिन अपने सोशल मीडिया की प्रोफाइल पिक्चर को शेर में बदल सकते हैं, एक स्केच बना सकते हैं, और हैशटैग #WorldLionDay का उपयोग करके सोशल मीडिया पर उनके फोटो साझा कर सकते हैं। अपने दोस्तों को इकट्ठा करो और पता करो कि सबसे तेज दहाड़ किसकी है। विश्व शेर दिवस के लिए अपना समर्थन दिखाने के लिए आप फेसबुक पेज को भी लाइक कर सकते हैं और ट्विटर पर @BigCatRescue को फॉलो कर सकते हैं। क्योंकि जितना अधिक हम इस शब्द का प्रसार करते हैं, इन अविश्वसनीय जानवरों के हमारे ग्रह पर हमेशा के लिए छा जाने की संभावना उतनी ही अधिक होती है।

विश्व शेर दिवस से जुड़े तथ्य (Facts related to World Lion Day)

अब हम आपको शेरो से जुड़े कुछ ऐसे तथ्य बताने वाले है जोकी शायद ही आपने पहले कभी सुने हो :-

  • शेर का वजन 190 किलोग्राम तक होता है और शेरनी का वजन 130 किलोग्राम तक होता है।
  • शेर की उपस्थिति वाले स्थान से 8 किलोमीटर दूर तक आप शेर की दहाड़ सुन सकते हैं।
  • अगर आकार की बात करें तो Big Cats यानी बड़ी बिल्लियों में आकार के आधार पर बाघ के बाद शेर दूसरा सबसे बड़ा जानवर होता है।
  • पृथ्वी पर लगभग 2000 वर्ष पहले, 10 लाख से भी ज्यादा शेर पाए जाते थे।
  • शेर की उम्र 16 से 20 वर्ष होती है।
  • सन 1940 के दशक में शेरों की संख्या 4.5 लाख थी जो आजकल घटकर केवल 32 हजार रह चुकी है।
  • जंगलो में नर शेर 12 से 16 साल जीवित रहते है जबकि मादा शेर 15 से 18 वर्ष जीवित रहती है जबकि पिंजरों में शेर 20 वर्ष तक जीवित रह सकते है।
  • नर शेर के गर्दन के बाल जितने गहरे होते है वो उतना ही बड़ा होता है।
  • 90 प्रतिशत से ज्यादा शिकार शेरनिया करती है |
  • मादा शेरनी उन्ही नर शेरों के साथ मिलन करना पसंद करती है जिसके लंबे और गहरे बाल हो।
  • शेर अक्सर रात को शिकार करते है क्योंकि रात में उनके शिकार की सफलता दर 50 प्रतिशत तक होती है।
  • दूसरी बिल्ली प्रजातियों के विपरीत शेर अच्छे तैराक होते है।
  • हाथी जैसे बड़े जानवर का शिकार शेर अकेले नही करता है वो उनका शिकार झुंड में करता है।
  • शेर प्रतिदिन 18 पौंड मांस खाता है तथा 36 फीट दूर तक छलांग लगा सकता है।
  • शेर बिल्ली प्रजाति का एकमात्र सदस्य है जिसकी रेशमी गुच्छे वाली पूंछ होती है।
  • शेरो एक झुण्ड में 2 से लेकर 40 सदस्य तक हो सकते है और औसतन एक झुण्ड में 13 सदस्य होते है।
  • आठ नर शेरों में से केवल एक नर शेर ही युवावस्था तक जीवित रह पाता है।
  • शेर अपने जबड़े 1 फूट तक खोल सकते है जो कि एक इंसानी सिर से भी ज्यादा बड़ा होता है। इसी वजह से एनिमल किंगडम के सबसे बड़े मुहो में शेर का नाम आता है।
  • शेर के पसंदीदा शिकारों में हिरण, नीलगाय जैसे पशु आते है।
  • आठ नर शेरों में से एक शेर के जीवित रहने का मुख्य कारण उन्हें 2 वर्ष की उम्र ही अपने झुण्ड से निकाल देना है।
  • कोई भी शेर इंसानों के मुकाबले रात मे 6 गुना ज्यादा साफ देख सकता है इसका फायदा उन्हे रात मे भी शिकार करने मे मिलता है।
  • शेर की रफ्तार 50 किलोमीटर प्रति घण्टा की होती है।
  • नर शेर अक्सर निवास के लिए प्रतिद्वंद्वी नर शेर सहित उनके शावकों को भी मार देते है।
  • शेर दिन में ज्यादातर समय सोकर गुजारता है ,शेर पूरे 20 घण्टे सोता है।
  • शेर शिकार को मारने से पहले उसके ज्यादा से ज्यादा करीब पहुंचने की कोशिश करता है।
  • अफ्रीका में पहले शेरों की संख्या लगभग 2 लाख से ज्यादा होती थी जो वर्तमान में घटकर केवल 30 हजार तक ही रह गई है।

आज आपने क्या सीखा

तो अब आप जान गए होंगे कि World Tribal Day क्यों और कब मनाया जाता है | विश्व आदिवासी दिवस इतिहास, थीम और रोचक तथ्य ?

तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको मेरा ये आर्टिकल पसंद आया होगा और आप जो जानकारी जानना चाहते है वो आपको मिलगई होगी। हम अपने आर्टिकल में सारि जानकारी देने की कोशिश करते है आसान भाषा में जिससे की आपको किसी दूसरे आर्टिकल को न पढ़ना पड़े। आपको यह जानकर ख़ुशी होगी की आप हमसे टेलीग्राम पर भी जुड़ सकते है।

अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों, फॅमिली के साथ शेयर कर सकते है और आप अपनी प्रतिक्रिया कमेंट बॉक्स में भी लिख सकते है। और अगर आपको लगता है की हमारे इस आर्टिकल में कुछ रह गया है या गलत है तो आप हमे जरूर कमेंट बॉक्स में बताये। धन्यवाद

ये भी पढ़े –

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *