World Day Against Child Labour क्यों मनाया जाता है और कब मनाया जाता है | विश्व बाल श्रम निषेध दिवस का उदेश्य, महत्व, थीम और इतिहास

World Day Against Child Labour in Hindi | विश्व बाल श्रम निषेध दिवस | विश्व बाल श्रम निषेध दिवस 2022 की थीम | विश्व बाल श्रम निषेध दिवस कब मनाया जाता है | bal shram nishedh divas kab manaya jata hai :- क्या आपको पता है की World Day against child labour क्यों मनाया जाता है और कब, कैसे मनाया जाता है। विश्व बाल श्रम निषेध दिवस का उदेश्य, महत्व, थीम और इतिहास ? जानने के लिए हमारा आर्टिकल पूरा और ध्यान से पढ़े।

आपको बतादे की बाल श्रम अपराध की श्रेणी में आता है और इसको बढ़ावा देने वालों पर कठोर से कठोर सजा का प्रावधान है। देश-दुनिया में बाल श्रम के मामलों के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। लोगों को बाल श्रम के प्रति सचेत करने के लिए इस दिन को मनाया जाता है।

बाल श्रम के खिलाफ विश्व दिवस का महत्व बाल श्रम की समस्या पर ध्यान देना और इसे खत्म करने के तरीके खोजना है। इस दिन का उपयोग दुनिया भर में बाल श्रम में मजबूर बच्चों द्वारा सामना की जाने वाली हानिकारक मानसिक और शारीरिक समस्याओं के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए किया जाता है।

World Day Against Child Labour | विश्व बाल श्रम निषेध दिवस | theme

एक रिपोर्ट के अनुसार 2012-2016’ में कहा गया कि पाँच और 17 वर्ष की उम्र के बीच 152 मिलियन बच्चों को विशेष परिस्थितियों में श्रम करने को मजबूर किया जा रहा है और 152 मिलियन में से 73 मिलियन बच्चे खतरनाक काम करते हैं। उन्हें मजदूरी कम मिलती है। बच्चो के मजबूर होकर काम करने के दो कारण है एक गरीबी और अशिक्षा और जब तक देश में गरीबी रहेगी तब तक हमे इस बीमारी से छुटकारा नहीं मिल सकता है।

गरीबी बाल श्रम का एक मुख्य कारण है, जिसके कारण बच्चे अपने स्कूल को छोड़ने के लिए मजबूर होते हैं और अपनी आजीविका के लिए अपने माता-पिता का समर्थन करने के लिए न्यूनतम नौकरियों का विकल्प चुनते हैं. इसके अलावा, कुछ संगठित अपराध रैकेट द्वारा बाल श्रम करने पर मजबूर किया जाता है।

विश्व बाल श्रम निषेध दिवस कब मनाया जाता है (Bal shram nishedh divas kab manaya jata hai)

अब हम आपको बताने वाले है की विश्व बाल श्रम निषेध दिवस कब मनाया जाता हैWorld Day Against Child Labour हर साल 12 जून को मनाया जाता है।

इस दिन की शुरूआत 2002 में अंतरराष्ट्रीय श्रम संघ ने की थी। इस दिन को मनाए जाने का उद्देश्य लोगों को 14 वर्ष से कम उम्र के बच्चों से श्रम न कराकर उन्हें शिक्षा दिलाने के लिए जागरूक करना है।

वर्ल्ड डे अगेंस्ट चाइल्ड लेबर का इतिहास (World Day Against Child Labour History in Hindi)

अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन(ILO), संयुक्त राष्ट्र संघ की एक शाखा है। यह संघ मजदूरों तथा श्रमिकों के हक के लिए नियम बनाती है, जिसे सख्ती से पालन किया जाता है। इसके लिए अंतरराष्ट्रीय श्रम संघ कई बार पुरस्कृत भी हो चुकी है। आपको बता दें कि ILO के 187 सदस्य देश हैं।

ILO ने ही अंतराष्ट्रीय स्तर पर पहली बार बाल श्रम को रोकने अथवा निषेध लगाने पर जोर दिया था, जिसके बाद 2002 में सर्वसम्मति से एक कानून पास कर किया गया जिसके तहत 14 वर्ष से कम उम्र के बच्चों से श्रम कराने को अपराध माना जायेगा। इसी साल पहली बार बाल श्रम निषेध दिवस 12 जून को मनाया गया।

ILO के आंकड़ों के अनुसार, दुनिया भर में लाखों लड़कियां और लड़के ऐसे काम में शामिल हैं जो उन्हें शिक्षा, स्वास्थ्य, अवकाश और बुनियादी स्वतंत्रता प्राप्त करने से वंचित करते हैं, इस तरह उनके अधिकारों का उल्लंघन करते हैं।

इन बच्चों में से आधे से अधिक बाल श्रम के सबसे खराब रूपों के संपर्क में हैं। बाल श्रम के इन सबसे खराब रूपों में खतरनाक वातावरण में काम, गुलामी, या जबरन श्रम के अन्य रूप, नशीली दवाओं की तस्करी और वेश्यावृत्ति जैसी अवैध गतिविधियों के साथ-साथ सशस्त्र संघर्ष में शामिल होना शामिल है।

विश्व बाल श्रम निषेध दिवस 2022 की थीम

हर साल वर्ल्ड डे अगेंस्ट चाइल्ड लेबर की थीम डिसाइड की जाती है। जैसे की इस साल यानि की 2022 की थीम रखी गयी थी ”Universal Social Protection to End Child Labour >> बाल श्रम को समाप्त करने के लिए सार्वभौमिक सामाजिक संरक्षण”

YearsTheme
वर्ष 2022 का थीमUniversal Social Protection to End Child Labour
वर्ष 2021 का थीम-”कोरोनावायरस के दौर में बच्चों को बचाना”
वर्ष 2020 का थीम ‘COVID-19 – Protect children from child labour now, more than ever.
वर्ष 2019 का थीमChildren shouldn’t work in fields, but on dreams’ 
वर्ष 2018 का थीम“Generation safe and Healthy”
वर्ष 2017 का थीम“In conflicts and disasters, protect children from child labour”
वर्ष 2016 का थीम“End child labour in supply chains – It’s everyone’s business!”
वर्ष 2015 का थीम“NO to child labour – YES to quality education!”

बाल श्रम दिवस का महत्व (World Child Labor Day Importance)

12 जून को बाल श्रम की समस्या के खिलाफ विश्व दिवस के रूप में चिह्नित किया गया है और बाल श्रम की समस्या पर ध्यान दिया गया है, हर साल लाखों बच्चो को काम करने के लिए मजबूर किया जाता है। बाल श्रम पर अंकुश लगाने के लिए कई संगठन, आईएलओ इत्यादि प्रयास कर रहे हैं।

लेकिन हमें भी जिम्मेदार होना चाहिए और बाल श्रम को खत्म करने में मदद करने के लिए अपने कर्तव्यों का पालन करना चाहिए। मादक पदार्थों की तस्करी और वेश्यावृत्ति जैसी अवैध गतिविधियों के लिए बच्चों को मजबूर किया जाता है. इस वजह से लोगों को बाल श्रम की समस्या के बारे में जागरूक करने और उनकी मदद करने के लिए इस दिवस को मनाया जाता है। बच्चे देश का भविष्य हैं।

ऐसे कार्य जो बाल श्रम नहीं हैं :-

  • ऐसे कार्य जो बच्चों या किशोरों के स्वास्थ्य एवं व्यक्तिगत विकास को प्रभावित नहीं करते हैं या जिन कार्यों का उनकी स्कूली शिक्षा पर कोई बुरा प्रभाव नही पड़ता हो, वे कार्य बाल श्रम में नहीं आते।
  • स्कूल के समय के अलावा या स्कूल की छुट्टियों के दौरान पारिवारिक व्यवसाय में सहायता करना भी बाल श्रम नहीं गिना जाता।
  • ऐसी गतिविधियाँ जो बच्चों के विकास में सहायक होती है तथा उनके बड़े होने पर उन्हें समाज का उत्पादक सदस्य बनने के लिये तैयार होने में मदद करती हैं वे भी बाल श्रम में नहीं आती।

भारत में बाल श्रमिक:-

  • राष्ट्रीय जनगणना 2011 के अनुसार, 5-14 वर्ष के बच्चो की भारत में जनसंख्या लगभग 260 मिलियन है। इनमें से कुल बाल आबादी 260 मिलियन का लगभग 10 मिलियन (लगभग 4%) बाल श्रमिक हैं जो मुख्य या सीमांत श्रमिकों के रूप में कार्य करते हैं।
  • 15-18 वर्ष की आयु के लगभग 23 मिलियन बच्चे विभिन्न कार्यों में लगे हुए हैं।

Stop Child Labour, Protect the right of children, educate them, and support them!

विश्व बाल श्रम निषेध दिवस कब मनाया जाता है ~ Video

आज आपने क्या सीखा

तो अब आप जान गए होंगे कि World Day Against Child Labour क्यों मनाया जाता है और कब मनाया जाता है? विश्व बाल श्रम निषेध दिवस का उदेश्य, महत्व, थीम, भारत में स्थिति और इतिहास क्या है ?

तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको मेरा ये आर्टिकल पसंद आया होगा और आप जो जानकारी जानना चाहते है वो आपको मिलगई होगी। हम अपने आर्टिकल में सारि जानकारी देने की कोशिश करते है आसान भाषा में जिससे की आपको किसी दूसरे आर्टिकल को न पढ़ना पड़े। आपको यह जानकर ख़ुशी होगी की आप हमसे टेलीग्राम पर भी जुड़ सकते है।

अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों, फॅमिली के साथ शेयर कर सकते है और आप अपनी प्रतिक्रिया कमेंट बॉक्स में भी लिख सकते है। और अगर आपको लगता है की हमारे इस आर्टिकल में कुछ रह गया है या गलत है तो आप हमे जरूर कमेंट बॉक्स में बताये। धन्यवाद

ये भी पढ़े –

Leave a Comment

Your email address will not be published.