Input device kya hai और कितने प्रकार के होते है ~ Input Device in Hindi

Input device kya hai, What is input device in hindi, इनपुट डिवाइस क्या है, Manual & Direct input devices :- क्या आप जानते हो की Input Device क्या होते है। शायद आप में कुछ लोगो को तो पता होगा लेकिन कुछ को Input Device के बारे में कुछ नहीं पता होगा तो आज हम आपको Input Device क्या होते है, types of Input Device के बारे में सारी जानकारी देने वाले है।

आपके पास कोई electronic device तो जरूर होगा ही चाहे वो मोबाइल फ़ोन, कंप्यूटर या लैपटॉप हो। और आप ये भी जानते होंगे की हमको इन electronic device को चलाने के लिए कुछ external device चाइये होते है, जैसे की keyboard, mouse और sound system आदि। तो ये device बहुत सारे होते है और इन्ही सब devices को हमने 2 हिस्सों में बाटा है Input Device और Output Device लेकिन हम आज Input Device के बारे में जानेंगे। तो चलिए बिना देरी शुरू करते है।

Input Device in Hindi

Input Device Kya Hai (What is input device in Hindi)

Input Device वो होते है, जो यूजर को Computer में Data या Command enter करने की अनुमति देते है। या फिर हम ये भी कह सकते है की Input Device वो device होते है जिनके द्वारा हम कोई भी information या data को input करते है किसी भी Computer के अंदर। इसके कुछ उदहारण हैं जैसे की Keyboard, Mouse, Scanner, microphone, Light Pen. इन सभी Input Devices की मदद से हम Computer के अंदर कुछ Input करते हैं।

Input Device भी एक तरह के hardware ही होते है। ये devices हमारे काम को आसान बनाकर हमारी मदद करते है जैसे की Mouse हमारी मदद करता है किसी भी icon, file को open या select करने के लिए। और इसी तरह keyboard भी हमारी सहायता करता है Computer में कुछ भी text, symbols, arrows को print करने के लिए। Input Devices को भी दो भागो में बाटा गया है –

Manual Input Devices-

Manual Input Devices: इनमें Data को कंप्यूटर में मैन्युअल रूप से(किसी User के द्वारा) एंटर किया जाता है। उदाहरण के लिये, अगर आपको कंप्यूटर में Text, Number या कोई Character टाइप करना है, तो आपको अपनी उंगलियों से Keyboard में उन Keys को दबाना होगा तब जाकर कंप्यूटर में वो शब्द दिखाई देगा। इस श्रेणी में शामिल है: Mouse, Joystick, Microphone, Digital Camera, Webcam और Touch Screen इत्यादि।

Direct Input Devices-

Direct Input Devices: इन Device द्वारा Data को सीधे कंप्यूटर में Input किया जाता है। अर्थात Direct Input Devices से डेटा को कंप्यूटर में एंटर करने के लिये बहुत अधिक बाहरी मदद की आवश्यकता नही होती है। इसके उदाहरण है: Barcode Scanner, Optical Mark Reader, Optical Character Reader, Biometric Scanner और Sensor इत्यादि।

इनपुट डिवाइस के प्रकार (Types Of Input Devices in Hindi)

जैसे की हमने बताया की Input Device हमारी computer से Interact करके उसे control करने में हमारी मदद करता है। और जो input या command हमने computer को दिए उनको समंझकर वो हमे output देता है। input devices कौन कौन से होते है और और क्या काम करते है डिटेल्स में जानेंगे –

  • Keyboard
  • Mouse
  • Joystick
  • Light Pen
  • Scanner
  • Microphone

Keyboard :

Input Device in Hindi Keyboard

Keyboard, यह कंप्यूटर की सबसे Main इनपुट डिवाइस है। आमतौर पर ये प्लास्टिक के बटनों से बना होता है जिसे ‘Keys’ कहते है। अधिकांश कीबोर्ड में 80 से लेकर 110 Keys तक होती है। Keyboard में Keys कई सेक्शन में व्यवस्थित होती है जिनमें क्रमशः Typing Keys, Numeric Keys, Functions Keys, Control Keys और Navigation Keys शामिल होती है।

Keyboard का उपयोग कर यूजर डॉक्यूमेंट लिख सकते है, कीस्ट्रोक शॉर्टकट का उपयोग कर सकते है और कई तरह के कमांड कंप्यूटर को दे सकते है। Keyboard कंप्यूटर से USB या Bluetooth के माध्यम से कनेक्ट होता है और अधिकांश कीबोर्ड QWERTY Layout का उपयोग करते है। इस कीबोर्ड के पहले छः अक्षर इसी के नाम पर होते है।

mail भेजना, messages भेजना, online transfer करना, online shopping करना और अन्य कामों में हम keyboard को इस्तमाल करते हैं।

Keyboard में कुल छः प्रकार के keys मौजूद होते हैं:

  • Alpha numeric keys: इस keys के अंतर्गत सभी alphabet keys or numbers keys आते हैं जैसे A to Z, a to z , 0 – 9.
  • Numeric keys: इस keys के अंतर्गत right side वाले number keys आते हैं और उसके साथ साथ Enter keys भी मौजूद होता है जैसे 0 – 9 (Enter). इस keys को lock या unlock करने के लिए Num Lock का button available रहता है|
  • Function Keys: इस keys के अंतर्गत F1 से F12 तक के keys आते हैं और सभी keys का इस्तेमाल अलग अलग purpose के लिए यानि की अलग अलग काम के लिए किया जाता है| जैसे F1 का काम help box open करने के लिए होता है|
  • Special purpose keys: यह keys multimedia keyboard में सबसे ऊपर में available होते हैं| Multimedia keyboard वैसे keyboard को कहा जाता है जिसमें volume को increase / decrease करने के लिए अलग से बटन दिया हुआ हो| इस keys का उपयोग special work के लिए होता है जैसे volume button.
  • Cursor Movement keys/ arrow keys: इसमे चार arrow keys available होते हैं जैसे की Up, Down, Left, Right. इन सभी keys का काम cursor को move कराने का के लिए होता है|
  • Modifier Keys: इस keys के अंतर्गत Shift, Ctrl, Alt, Capslock इत्यादि keys आते हैं|

Mouse :

Input Device in Hindi Mouse

यह भी Computer की Main Input Device होती है। इसे Pointer Device भी कहा जाता है। Mouse की सहायता से हम Computer Screen पर दिखने वाले Arrow के Icon जिसे Cursor कहते है को Move कर सकते है। Mouse में 2 Button होते है जिन्हें Left Click और Right Click कहते है। किसी भी mouse का left hand side button सबसे ज्यादा use होता है जबकि right hand side का button special cases में use होता है|

  • Left Key : Computer Screen में कुछ Icons को Select और File, Folders को Open करने के लिए किया जाता है. जब Left Key को एक बार दबाने से उसे Left Click कहते हैं।
  • Right Key : Right Key को Press करने से Screen में Sub Menu खुलता है. Right Key को दबाने के Process को Right Click कहते हैं।
  • Middle Button(Scroll Wheel): Screen को उपर निचे Scroll करने के लिए किया जाता है. Scroll Button भि कहते हैं।

Joystick :

Joystick

Joystick एक input device होता है जिसमें एक stick (छड़ी) लगा हुआ होता है और इसका उपयोग device के direction को control करने के लिए किया जाता है| इसको Control column के नाम से भी जाना जाता है| इसका सबसे ज्यादा उपयोग video गेम में होता है|

Light Pen :

Light Pen

जैसे कि पेन का उपयोग हम कागज पर कुछ लिखने या draw के लिए करते हैं, ठीक वैसे ही जब हम कंप्यूटर में कोई graphics या कोई ड्रॉइंग करना होता है तो हम उसके लिए लाइट पेन का यूज करते हैं जो कि एक बहुत ही अच्छा इनपुट डिवाइस है ड्रॉइंग के लिए, इस पेन को चुंबकीय छड ( मैग्नेटिक स्टिक ) भी कहते हैं, painter के लिए यह input device बहुत ही उपयोगी होता है।

Scanner :

Scanner

Scanner का इस्तेमाल documents को scan करके digital form में कंप्यूटर में input करने के लिए किया जाता है। इसके द्वारा scan किये गए document को computer में image के रूप में save किया जा सकता है। अगर आप चाहे तो document को edit भी कर सकते है।

स्कैनर काफी तरह के होते है। जिनका का प्रयोग अलग अलग कार्य को करने के लिए किया जाता है।

  • MICR – इसका प्रयोग Bank में magnetic ink से लिखे गए text को scan करने के लिए किया जाता है।
  • OCR – Optical Character Reader लिखे हुए text को digital form में convert करता है।

Microphone :

Microphone

माइक्रोफोन एक महत्वपूर्ण Input Device है, जिसके उपयोग से Sound को कंप्यूटर में Input किया जाता है। उदाहरण के लिये जब आप Voice Recorder का उपयोग करते है, तो Laptop का Microphone उस Sound को डिटेक्ट करता है और एक इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल लैपटॉप में ट्रांसमिट किया जाता है।

जिसके बाद Analogue-to-digital Converter (ADC) उस Analog data को Digital data में कन्वर्ट कर देता है ताकि उस रिकॉर्डिंग को लैपटॉप में स्टोर किया जा सके। Microphones का उपयोग कई कामों के लिये किया जाता है जैसे – Voice call, Voice over, Video conferencing और Speech recognition इत्यादि।

FAQs

Input और Output डिवाइस के बीच अंतर

User जिस Device से Computer को Input Data Send करता है वह Input Device होता है और जो Device Input को Output में बदलता है वह Output Device कहलाता है।

Input Devices को हिंदी में क्या कहते हैं?

निवेश यंत्र (input device)

Input Device कितने प्रकार के होते हैं?

की-बोर्ड (Keyboard)
माउस (Mouse)
स्कैनर (Scanner)
जॉयस्टिक (Joystick)
लाइट पेन (Light pen)
स्कैनर (Scanner)
एम.आई.सी.आर. ( MICR)
ट्रैकबाल (Trackball)

Mouse का आविष्कार किसने और कब किया?

माउस का विकास 1960 के दशक की शुरुआत में SRI के Douglas Engelbert द्वारा शुरू किया गया था, जब वह मनुष्यों और कंप्यूटरों के बीच interactions की खोज कर रहे थे। SRI Chief Engineer Bill English ने 1964 में पहला कंप्यूटर माउस prototype बनाया।

Read Also :

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *