Tue. May 26th, 2020

Gopi Rasoi

यह प्रयास है ताकि कोई भी व्यक्ति भूख से पीड़ित न रहे

गोपी रसोई वृन्दावन: भूखो को भोजन प्यासों को पानी

1 min read
गोपी रसोई वृन्दावन: भूखो को भोजन प्यासों को पानी

गोपी रसोई वृन्दावन: भूखो को भोजन प्यासों को पानी

गोपी रसोई वृन्दावन: भूखो को भोजन प्यासों को पानी

मानव जीवन की यही कहानी

गोपी रसोई द्वारा आरम्भ की जा रही सेवाएं

★★★★★★★★★★★★★★★

🥪 क -रोटी बैंक🥪
1—-भूखों,बेसहारों,लाचारों ,लावारिसों एवं मानसिक रोगियों,व दूर दराज से आये गरीब व निर्धनों को निःशुल्क भोजन वितरण ।
(शहर की विभिन्न कालोनियों में लगाये गए गोपी बॉक्स से प्राप्त रोटियों को कलेक्शन वाहन 🚛 द्वारा एकत्र कर एवं कच्ची सब्जी कलेक्ट करना व कल की प्राप्त कच्ची सब्जी अपनी पाकशाला में तैयार करना एवं वितरण वाहन(e रिक्शा)🚕के माध्यम से शहर के विभिन्न हिस्सों में वितरित करना।
💧 ख-पेयजल सेवा💧
2-मोटरबाइक पर लगे छोटे टैंकरों 📫 द्वारा शुद्ध आरओ प्लांट से प्राप्त ठंडे जल का सचल वितरण*
ये टेंकर
1-मथुरा रेलवे स्टेशन बाहरी क्षेत्र से चलकर वृन्दावन रंगजी मंदिर तक
2-छटीकरा से चलकर अखण्डानन्द आश्रम बिहारी जी मंदिर वृन्दावन तक
3-अटल्ला चुंगी से चलकर परिक्रमा मार्ग रमणरेती तक ।।
सेवा करेंगे एवं गरीबों को पानी की बोतल भरने की सुविधा भी उपलब्ध कराएंगे
🏡ग-सेवाश्रम🏡
सभी सदस्यों एवं गरीब तीर्थयात्रियों को निःशुल्क ठहरने की सुविधा देने के लिए सेवाश्रम निर्माण हेतु प्रक्रिया आरम्भ
यह सेवाश्रम पूर्व के गुरुकुल पद्धति व गुरुद्वारा पद्धति पर आधारित है जिसमे गरीब -अमीर -जाति छोटा- बड़ा के भेदभाव को मिटाकर सभी को समान भाव से निःशुल्क सुविधा एवं सेवा दी जा सकेगी ।
किसी भी सदस्य को व्यक्तिगत सुविधा नही उपलब्ध कराई जाएगी।
प्रस्तावित ——
💐चिड़ी का घोंसला💐
विभिन्न स्थानों ,पेड़ो पर घोंसले लगाना व दाने पानी की व्यवस्था करना ।

💐मेरा पेड़ मेरा पौधा- तुलसी,कदम्ब,वड पीपल और नीम💐

क्या_यह सब आपके बिना सम्भव है?

तो आप भी सदस्य बनें एवं इस पोस्ट को शेयर करें

गोपी रसोई में सदस्य बनने के लिए आपका नाम पता व फ़ोटो व्हाट्सएप करें –8279893030/9548964754

1 thought on “गोपी रसोई वृन्दावन: भूखो को भोजन प्यासों को पानी

  1. गोपी रसोई द्वारा पीड़ित मानवता के लिए किए जा रहे सेवा प्रकल्प अतुलनीय है,मेरी ढेर सारी शुभकामनाएं,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *